Recently on TheGitaTamil

அத்தியாயம் ௧ - ஸ்லோகம் ௩௰௭

அத்தியாயம் ௧ - ஸ்லோகம் ௩௰௭

TheGitaTamil_1_37

 

Find the same shloka below in English and Hindi.
TheGita – Chapter 1 – Shloka 37

Shloka 37

O KRISHNA, why should we kill our own loved ones and kinsmen when no happiness or good can come out of so doing?

अतएव हे माधव ! अपने ही बान्धव धृतराष्ट्र के पुत्रों को मारने के लिये हम योग्य नहीं हैं ; क्योंकि अपने ही कुटुम्ब को मारकर हम कैसे सुखी होंगे ।। ३७ ।।

The Gita in Sanskrit, Hindi, Gujarati, Marathi, Nepali and English – The Gita.net