Recently on TheGitaTamil

அத்தியாயம் ௩ - ஸ்லோகம் ௪௰௧

அத்தியாயம் ௩ - ஸ்லோகம் ௪௰௧

TheGitaTamil_3_41
Find the same shloka below in English and Hindi.
TheGita – Chapter 3 – Shloka 41

Shloka 41

The Blessed Lord advised:
Therefore, O Arjuna, restrain the senses first and control your sinful desires, the enemy of Gyan or knowledge.

इसलिये हे अर्जुन ! तू पहले इन्द्रियों को वश में करके इस ज्ञान और विज्ञान का नाश करने वाले महान् पापी काम को अवश्य ही बल पूर्वक मार डाल ।। ४१ ।।

The Gita in Sanskrit, Hindi, Gujarati, Marathi, Nepali and English – The Gita.net